Tag: अनुयायी

धार्मिक परम्पराएँ शिष्यों को गुरुओं के अपराधों पर पर्दा डालने पर मजबूर करती हैं-12 सितंबर 2013
धार्मिक परम्पराएँ शिष्यों को गुरुओं के अपराधों पर पर्दा डालने पर मजबूर करती हैं-12 सितंबर 2013
स्वामी बालेंदु समझा रहे हैं की कैसे धर्म शिष्यों को आदेश देता है कि न ... Read More
भक्तों की दुविधा: गुरु के अपराधों को जानते हैं मगर मानते नहीं- 11 सितंबर 2013
भक्तों की दुविधा: गुरु के अपराधों को जानते हैं मगर मानते नहीं- 11 सितंबर 2013
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि जब किसी गुरु के गुनाहों की पोल खुल जाती ... Read More
गुरु की वासना-शांति के लिए लड़कियां मुहैया कराना, आँख मूंदकर उसके अपराध के भागीदार बनना-10 सितंबर 2013
गुरु की वासना-शांति के लिए लड़कियां मुहैया कराना, आँख मूंदकर उसके अपराध के भागीदार बनना-10 सितंबर 2013
स्वामी बालेंदु आसाराम के कट्टर अनुयायियों के बारे में बता रहे हैं जो अपने गुरु ... Read More
आसाराम द्वारा प्रताड़ित लड़की के पिता को रिश्वत का प्रयास, मारने की धमकी के बावजूद सराहनीय है मजबूती-9 सितंबर 13
आसाराम द्वारा प्रताड़ित लड़की के पिता को रिश्वत का प्रयास, मारने की धमकी के बावजूद सराहनीय है मजबूती-9 सितंबर 13
स्वामी बालेंदु आसाराम द्वारा प्रताड़ित लड़की के पिता की स्थिति की विवेचना कर रहे हैं। ... Read More
प्राचीन काल से लेकर आधुनिक रॉक स्टार गुरुओं तक का विकास- 23 जुलाई 2013
प्राचीन काल से लेकर आधुनिक रॉक स्टार गुरुओं तक का विकास- 23 जुलाई 2013
स्वामी बालेंदु उस क्रमिक विकास का विवरण दे रहे हैं जिसके अनुसार पारंपरिक गुरुओं में ... Read More
अपनी जिम्मेदारियों से बचने का गुरु प्रदत्त सम्मोहक प्रस्ताव - 3 अप्रैल 2013
अपनी जिम्मेदारियों से बचने का गुरु प्रदत्त सम्मोहक प्रस्ताव – 3 अप्रैल 2013
स्वामी बालेन्दु लिखते हैं कि किस तरह हिन्दू धर्म में किस तरह गुरुवाद को बढ़ावा ... Read More
Balendu
श्री श्री रविशंकर पर लिखने के बाद प्रशंसा , अपशब्दों एवं चेतावनियों का लेखा – जोखा – 22 फरवरी 13
स्वामी बालेंदु लिखते हैं उन प्रतिक्रियाओं के बारे में जो उन्हें मिली श्री श्री रविशंकर ... Read More
ईश्वर की तरह 'सर्वज्ञ' श्री श्री रविशंकर को चायपत्ती क्यों चुरानी पड़ी - 21 फरवरी 13
ईश्वर की तरह ‘सर्वज्ञ’ श्री श्री रविशंकर को चायपत्ती क्यों चुरानी पड़ी – 21 फरवरी 13
स्वामी बालेंदु एक और कहानी का पर्दाफाश करते हैं जिसमें श्री श्री रविशंकर दावा करते ... Read More
श्री श्री रविशंकर की अपील - सोचो मत, मेरे पीछे चले आओ! - 20 फरवरी 13
श्री श्री रविशंकर की अपील – सोचो मत, मेरे पीछे चले आओ! – 20 फरवरी 13
स्वामी बालेंदु श्री श्री रविशंकर और उनकी संस्था आर्ट ऑफ लिविंग का एक विज्ञापन उजागर ... Read More
श्री श्री रविशंकर ने बिना समय गंवाए हटा दी अपनी चमत्कारी शक्तियों की कहानी - 19 फरवरी 13
श्री श्री रविशंकर ने बिना समय गंवाए हटा दी अपनी चमत्कारी शक्तियों की कहानी – 19 फरवरी 13
स्वामी बालेंदु श्री श्री रविशंकर की त्वरित प्रतिक्रिया के बारे में लिखते हैं। स्वामी बालेंदु ... Read More
श्री श्री रविशंकर कहते हैं मोबाइल फोन चार्ज करें उनकी तस्वीर के सामने रखकर - 18 फरवरी 13
श्री श्री रविशंकर कहते हैं मोबाइल फोन चार्ज करें उनकी तस्वीर के सामने रखकर – 18 फरवरी 13
स्वामी बालेंदु से सुनिए नकली गुरु श्री श्री रविशंकर की चमत्कारी शक्तियों का पर्दाफाश करती ... Read More
अगर आप वाकई धर्म को जानना चाहते हैं तो उससे पूछिए जिसने उसे छोड़ दिया है - 6 नवम्बर 2012
अगर आप वाकई धर्म को जानना चाहते हैं तो उससे पूछिए जिसने उसे छोड़ दिया है – 6 नवम्बर 2012
स्वामी बालेंदु उन लोगों के बारे बता रहे हैं जिनका लालन-पालन धार्मिक और कूटमंडूक माहौल ... Read More
जब कोई आस्था नुकसान पहुँचाने लगे तो उसके प्रति सहिष्णुता त्याग देनी चाहिए- 17 मई 2012
जब कोई आस्था नुकसान पहुँचाने लगे तो उसके प्रति सहिष्णुता त्याग देनी चाहिए- 17 मई 2012
स्वामी बालेंदु उन आस्थाओं और विश्वासों के विषय में लिख रहे हैं, जो नुकसान पहुंचाते ... Read More
आपने समय व्यर्थ नहीं किया भले ही आप फ़र्जी गुरुओं में विश्वास करते थे - 13 Oct 11
आपने समय व्यर्थ नहीं किया भले ही आप फ़र्जी गुरुओं में विश्वास करते थे – 13 Oct 11
स्वामी बालेन्दु उन भूतपूर्व शिष्यों के विषय में लिखते हैं जो यह सोचते हैं कि ... Read More
आस्था समाप्त होने पर धर्म का व्यवसाय मत करो - ईमानदार बनो - 12 अक्तूबर 2011
आस्था समाप्त होने पर धर्म का व्यवसाय मत करो – ईमानदार बनो – 12 अक्तूबर 2011
स्वामी बालेन्दु उन लोगों की बात लिखते हैं जो कि विश्वास समाप्त हो जाने पर ... Read More
हिन्दू होने का दिखावा करते हुए पश्चिमी लोगों का जाति प्रथा का समर्थन - 20 सितंबर 2011
हिन्दू होने का दिखावा करते हुए पश्चिमी लोगों का जाति प्रथा का समर्थन – 20 सितंबर 2011
स्वामी बालेन्दु लिखते हैं कि कैसे कुछ विदेशी लोग भी जाति व्यवस्था को बढ़ावा देते ... Read More