भारत में सामाजिक परिस्थिति लगातार बेहद शर्मनाक, शोचनीय और पीड़ादायक हो चली है – 7 अक्टूबर 2015

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि क्यों वे समझते हैं कि भारत में मौजूदा हालत न सिर्फ बहुत नाज़ुक और संवेदनशील हो गई है बल्कि वह लगातार बिगड़ती ही जा रही है। इस विषय में विस्तार से यहाँ पढिए।

Continue Readingभारत में सामाजिक परिस्थिति लगातार बेहद शर्मनाक, शोचनीय और पीड़ादायक हो चली है – 7 अक्टूबर 2015

आभार यूरोप! शरणार्थियों की मदद करने का बहुत बहुत शुक्रिया – 1 सितंबर 2015

एक धन्यवाद-ज्ञापन के रूप में स्वामी बालेंदु यूरोप की जनता को संबोधित कर रहे हैं, जो कई तरह से शरणार्थियों की मदद के लिए आगे आए हैं और उनकी देखभाल में हाथ बंटा रहे हैं।

Continue Readingआभार यूरोप! शरणार्थियों की मदद करने का बहुत बहुत शुक्रिया – 1 सितंबर 2015

यूरोप में शरणार्थियों की दुखद परिस्थिति – 31 अगस्त 2015

बालेंदु स्वामी यूरोप के शरणार्थियों के विषय में बता रहे हैं जो तकलीफदेह यात्राएँ करके नए, अस्थाई आवासों में शरण लेने के लिए मजबूर हो रहे हैं- और जब वे वहाँ पहुँचते हैं तो विदेशी भीति देखने को मिलती है!

Continue Readingयूरोप में शरणार्थियों की दुखद परिस्थिति – 31 अगस्त 2015

भारत में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस – चीन से चटाइयां और योग के शक्तिशाली व्यापारियों को धनलाभ – 21 जून 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि कैसे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के समारोहों में पर्दे के पीछे एक दूसरा चेहरा भी छिपा हुआ है।

Continue Readingभारत में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस – चीन से चटाइयां और योग के शक्तिशाली व्यापारियों को धनलाभ – 21 जून 2015

बलात्कारी पंच – पंचायतें जहां बलात्कार अपराध नहीं बल्कि प्रेम की सज़ा है – 27 जनवरी 2014

स्वामी बालेंदु सामूहिक बलात्कार के एक मामले के बारे में लिख रहे हैं, जिसमें पश्चिम बंगाल के एक गाँव की पंचायत ने एक महिला के विरुद्ध यह सज़ा सुनाई कि उस पर बलात्कार किया जाए क्योंकि उसने एक ऐसे पुरुष से संबंध स्थापित किए, जिसका अनुमोदन समाज नहीं करता था।

Continue Readingबलात्कारी पंच – पंचायतें जहां बलात्कार अपराध नहीं बल्कि प्रेम की सज़ा है – 27 जनवरी 2014

गांधी को भूले अन्ना – अन्ना हजारे ने किया शराबियों को पीटने का समर्थन – 28 नवम्बर 11

स्वामी बालेंदु ने अन्ना हजारे के उस बयान के बारे में लिखा है, जिसमें उन्होंने शराबियों से शराब छुड़ाने के लिए पिटाई करने की बात कही है।

Continue Readingगांधी को भूले अन्ना – अन्ना हजारे ने किया शराबियों को पीटने का समर्थन – 28 नवम्बर 11