प्यार का कोई विलोम नहीं है – 7 सितंबर 2015

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि ऐसी कोई भावना नहीं है, जिसका प्रेम के साथ सहअस्तित्व नहीं हो सकता- घृणा भी नहीं, डर भी नहीं!

Continue Readingप्यार का कोई विलोम नहीं है – 7 सितंबर 2015

दिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015

स्वामी बालेन्दु से किसी व्यक्ति ने अपनी इस समस्या पर उनके विचार पूछे: दिन भर के काम के भयंकर तनाव के बाद वह इतना थक जाता है या उसे इतना समय ही नहीं मिलता कि पत्नी के साथ सम्भोग कर सके! क्या किया जाए? बालेन्दु जी का उत्तर यहाँ पढ़ें।

Continue Readingदिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015

पश्चिमी महिलाओं के साथ संबंधों के प्रति गंभीर हो रहे भारतीय पुरुषों और पश्चिमी महिलाओं के लिए कुछ टिप्स – 18 जून 2015

स्वामी बालेंदु उन भारतीय पुरुषों और पश्चिमी महिलाओं के लिए कुछ सामान्य टिप्पणियाँ लिख रहे हैं, जो एक-दूसरे के साथ प्रगाढ़ संबंध स्थापित करने की ओर गंभीरतापूर्वक अग्रसर हो रहे हैं।

Continue Readingपश्चिमी महिलाओं के साथ संबंधों के प्रति गंभीर हो रहे भारतीय पुरुषों और पश्चिमी महिलाओं के लिए कुछ टिप्स – 18 जून 2015

यदि आप पश्चिमी महिलाओं के साथ ऑनलाइन सेक्स चैट करने वाले भारतीय पुरुष हैं तो इसे अवश्य पढ़ें! 17 जून 2015

स्वामी बालेन्दु उन भारतीय पुरुषों से एक अपील कर रहे हैं, जो पश्चिमी महिलाओं के साथ होने वाली अपनी ऑनलाइन बातों के प्रति गंभीर नहीं होते, जब कि वे महिलाएँ उनसे प्रेम करने लगती हैं।

Continue Readingयदि आप पश्चिमी महिलाओं के साथ ऑनलाइन सेक्स चैट करने वाले भारतीय पुरुष हैं तो इसे अवश्य पढ़ें! 17 जून 2015

जिस भारतीय पुरुष के साथ आप प्यार और सेक्स के बारे में ऑनलाइन चैट कर रही हैं, वास्तव में वह आपके साथ विवाह क्यों नहीं करेगा! 16 जून 2015

स्वामी बालेंदु पश्चिमी महिलाओं को बता रहे हैं कि क्यों उन्हें भारतीय पुरुषों के साथ बने ऑनलाइन संबंधों पर विश्वास करके एक सुखद वैवाहिक जीवन के प्रति बहुत आशान्वित नहीं होना चाहिए!

Continue Readingजिस भारतीय पुरुष के साथ आप प्यार और सेक्स के बारे में ऑनलाइन चैट कर रही हैं, वास्तव में वह आपके साथ विवाह क्यों नहीं करेगा! 16 जून 2015

3 साल के बच्चे को उसके सवाल का जवाब देना: प्रेम क्या होता है? 30 मार्च 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि उन्होंने क्या जवाब दिया जब उनकी छोटी सी बच्ची ने उनसे एक बहुत बड़ा सवाल पूछ लिया-प्रेम क्या है?

Continue Reading3 साल के बच्चे को उसके सवाल का जवाब देना: प्रेम क्या होता है? 30 मार्च 2015

विश्वास और प्रेम की अनुभूति – 15 फरवरी 2015

स्वामी बालेंदु प्रेम, विश्वास और खुद अपने सम्बन्धों के बारे में लिखते हुए पुरुषों और स्त्रियॉं, दोनों में मौजूद आदिम एहसासों और उनमें पाई जाने वाली संरक्षण देने और संरक्षण पाने की प्रवृत्तियों के बारे में लिख रहे हैं।

Continue Readingविश्वास और प्रेम की अनुभूति – 15 फरवरी 2015

और मेरी प्रेम कहानी इस तरह शुरू हुई….. – 11 जनवरी 2015

स्वामी बालेंदु एक घटना का वर्णन कर रहे हैं, जिसने उनकी दुनिया बदल दी: जब उन्हें एक खास ईमेल प्राप्त हुआ।

Continue Readingऔर मेरी प्रेम कहानी इस तरह शुरू हुई….. – 11 जनवरी 2015

जब मैं पारंपरिक विवाह समारोह में शिरकत करता हूँ तो क्या मैं दहेज प्रथा का समर्थन करता हूँ? 25 दिसंबर 2014

स्वामी बालेंदु एक दहेज प्रथा विरोधी भारतीय के इस सवाल का जवाब दे रहे हैं क्या उसे पारंपरिक विवाहों से दूर रहना चाहिए।

Continue Readingजब मैं पारंपरिक विवाह समारोह में शिरकत करता हूँ तो क्या मैं दहेज प्रथा का समर्थन करता हूँ? 25 दिसंबर 2014

क्या आप उस उदात्त प्रेम और शारीरिक अंतरंगता को कई लोगों के साथ साझा कर सकते हैं? 29 अक्टूबर 2014

स्वामी बालेंदु इस प्रश्न पर विचार कर रहे हैं कि क्या आप कई साथियों के साथ शारीरिक संबंध रखते हुए उदात्त प्रेम का अनुभव कर सकते हैं।

Continue Readingक्या आप उस उदात्त प्रेम और शारीरिक अंतरंगता को कई लोगों के साथ साझा कर सकते हैं? 29 अक्टूबर 2014