आजकल हम एक साथ बहुत से कार्यक्रमों की तैयारी में व्यस्त हैं! 8 नवंबर 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि वे एक साथ बहुत से कार्यक्रमों की तैयारी में कितने व्यस्त हैं-एक नया समूह उनके यहाँ आने वाला है, और जल्द ही एक यात्रा पर भी निकलना है!

Continue Readingआजकल हम एक साथ बहुत से कार्यक्रमों की तैयारी में व्यस्त हैं! 8 नवंबर 2015

साल गिनना भूल कर, जीवन से प्यार करते हुए जन्मदिन मनाना! 14 अक्टूबर 2015

स्वामी बालेंदु अपने जन्मदिन पर अपने परिवार के बारे में, अपनी बेटी अपरा की विजय के बारे में और सबसे बढ़कर, अपनी उम्र के बारे में लिख रहे हैं और बता रहे हैं कि कैसे यह उनके लिए कोई मतलब नहीं रखता!

Continue Readingसाल गिनना भूल कर, जीवन से प्यार करते हुए जन्मदिन मनाना! 14 अक्टूबर 2015

दिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015

स्वामी बालेन्दु से किसी व्यक्ति ने अपनी इस समस्या पर उनके विचार पूछे: दिन भर के काम के भयंकर तनाव के बाद वह इतना थक जाता है या उसे इतना समय ही नहीं मिलता कि पत्नी के साथ सम्भोग कर सके! क्या किया जाए? बालेन्दु जी का उत्तर यहाँ पढ़ें।

Continue Readingदिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015

पुराने दोस्तों से दूरी पर दुखी न हों, आप इस विषय में कुछ नहीं कर सकते! 3 मई 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि बहुत करीबी मित्रों के बहुत दूर चले जाने पर कैसे कुछ लोग पुराने दिनों को याद करके अत्यंत दुखी हो जाते हैं। इस ब्लॉग में पढ़िए कि समय-समय पर होने वाले ऐसे परिवर्तनों पर वे क्यों दुखी नहीं होते?

Continue Readingपुराने दोस्तों से दूरी पर दुखी न हों, आप इस विषय में कुछ नहीं कर सकते! 3 मई 2015

अपने बच्चों को व्यस्त और टीवी से दूर रखें लेकिन इसलिए नहीं कि वे आप पर बोझ हैं! 20 अप्रैल 2015

स्वामी बालेन्दु एक अच्छे विचार के गलत अमल और खराब विज्ञापन का विवरण लिख रहे हैं! बच्चों को टीवी से दूर रखने के उपाय के बारे में यहाँ पढ़ें!

Continue Readingअपने बच्चों को व्यस्त और टीवी से दूर रखें लेकिन इसलिए नहीं कि वे आप पर बोझ हैं! 20 अप्रैल 2015

अपने जीवन का समय बरबाद न हो इसलिए अपने काम से प्रेम करें – 21 जनवरी 2015

स्वामी बालेंदु लोगों से आग्रह कर रहे हैं कि वे अपने समय का समुचित उपयोग करें। वे काम न करें जो उन्हें पसंद नहीं हैं क्योंकि वह दिन भर का, एक सप्ताह का और साल भर का काफी समय बरबाद कर देते हैं!

Continue Readingअपने जीवन का समय बरबाद न हो इसलिए अपने काम से प्रेम करें – 21 जनवरी 2015

आपका समय अमूल्य है, उसे टीवी सीरियल देखकर बरबाद न करें! 17 सितंबर 2014

स्वामी बालेंदु टीवी न देखने की अनुशंसा करते हुए तीन कारण बता रहे हैं कि वे यह अनुशंसा क्यों कर रहे हैं-वे इस विषय में क्या सोचते हैं, यहाँ पढिए!

Continue Readingआपका समय अमूल्य है, उसे टीवी सीरियल देखकर बरबाद न करें! 17 सितंबर 2014

जब एक डॉक्टर कहे कि आप अपने बच्चे के साथ ज़्यादा समय गुज़ारें! 8 जुलाई 2014

स्वामी बालेंदु एक ऐसे बच्चे के बारे में बता रहे हैं, जो दो साल का हो जाने पर भी बोल नहीं पाता-और जिसकी माँ यह जानने के लिए डॉक्टर के पास जाती है कि ऐसा क्यों हो रहा है। डॉक्टर ने उससे क्या कहा, यहाँ पढिए।

Continue Readingजब एक डॉक्टर कहे कि आप अपने बच्चे के साथ ज़्यादा समय गुज़ारें! 8 जुलाई 2014

अपने संबंधों को विकसित होने का अधिकाधिक मौका दीजिए – 12 जून 2014

स्वामी बालेन्दु उन लोगों की चर्चा कर रहे हैं जो अक्सर सम्बन्ध बदलते रहते हैं-आपको चाहिए कि प्रेम और विश्वास को विकसित होने का कुछ समय दें!

Continue Readingअपने संबंधों को विकसित होने का अधिकाधिक मौका दीजिए – 12 जून 2014

अपने बच्चों के साथ बहुमूल्य समय गुजारने का मौका कभी न छोड़ें – 23 अप्रैल, 2014

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि उन्हें कैसे इस बात का संज्ञान हुआ कि उन्हें अपरा के साथ ज़्यादा वक़्त गुज़ारना चाहिए-और यह कि दुनिया की किसी भी बात से यह बात ज़्यादा ज़रूरी है।

Continue Readingअपने बच्चों के साथ बहुमूल्य समय गुजारने का मौका कभी न छोड़ें – 23 अप्रैल, 2014