कैसे सतत मार्गदर्शन बच्चों के विकास में बाधा पहुँचाता है – 11 अगस्त 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि कैसे बच्चों को बार-बार टोकना कि यह करो, वह मत करो और उन्हें पूरी तरह आज़ाद (छुट्टा) छोड़ देना, दोनों ही उचित नहीं है। बच्चों के लालन-पालन संबंधी प्रश्नों की विवेचना यहाँ पढ़िए।

Continue Readingकैसे सतत मार्गदर्शन बच्चों के विकास में बाधा पहुँचाता है – 11 अगस्त 2015

अपनी साढ़े तीन साल की बच्ची, अपरा के बगैर पहली बार माँ और पा – 14 जुलाई 2015

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि जब उनकी बेटी तीन दिन के लिए उन्हें छोड़कर गई तब वे और उनकी पत्नी कैसा महसूस कर रहे थे।

Continue Readingअपनी साढ़े तीन साल की बच्ची, अपरा के बगैर पहली बार माँ और पा – 14 जुलाई 2015

आश्रम में धूम्रपान पर पाबंदी है लेकिन धूम्रपान करने वालों पर न तो पाबंदी है, न ही उनकी निंदा की जाती है! 26 अप्रैल 2015

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि धूम्रपान करने के आदी मेहमान उनके आश्रम में आश्वस्त और प्रसन्न रहते हैं: वे जानते हैं कि आश्रम के गेट के बाहर जाकर वे धूम्रपान कर सकते हैं और कोई भी इस आधार पर उनका आकलन नहीं करेगा!

Continue Readingआश्रम में धूम्रपान पर पाबंदी है लेकिन धूम्रपान करने वालों पर न तो पाबंदी है, न ही उनकी निंदा की जाती है! 26 अप्रैल 2015

‘आइए, सेक्स के बारे में बातें करें’ का अर्थ ‘आइए, अश्लील चित्र देखें’ नहीं है! 7 अगस्त 2014

स्वामी बालेंदु बहुत से भारतीयों की संकीर्ण, बीमार मानसिकता का वर्णन करते हुए बता रहे हैं कि भारत के लोग सोचते हैं कि सेक्स से संबन्धित हर चीज़ या हर बात गंदी और अश्लील होती है।

Continue Reading‘आइए, सेक्स के बारे में बातें करें’ का अर्थ ‘आइए, अश्लील चित्र देखें’ नहीं है! 7 अगस्त 2014

किसी से प्रेम करना आपकी आज़ादी का हनन नहीं है – 3 जुलाई 2014

स्वामी बालेन्दु एक व्यक्तिगत सत्र का वर्णन करते हुए बता रहे हैं कि एक व्यक्ति उनके पास हैरान परेशान आया कि वह किसी के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ गया है और अब उसकी स्वतंत्रता छिन जाएगी।

Continue Readingकिसी से प्रेम करना आपकी आज़ादी का हनन नहीं है – 3 जुलाई 2014

मेरी पत्नी, रमोना के साथ मेरे संबंधों के विषय में कुछ बातें- 12 फरवरी 2014

एक नव-विवाहित दंपति के साथ स्वामी बालेंदु ने पत्नी रमोना और अपने दाम्पत्य संबंधों की चर्चा की। चर्चा के विषय में यहाँ पढ़िये।

Continue Readingमेरी पत्नी, रमोना के साथ मेरे संबंधों के विषय में कुछ बातें- 12 फरवरी 2014

वह सुंदर महिला मुझे अच्छी लगी फिर भी मैंने सेक्स से इंकार किया! क्यों? 26 जनवरी 2014

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि कैसे एक बार एक सुन्दर महिला ने उनसे पूछा कि क्या वे उसके साथ अन्तरंग सम्बन्ध स्थापित करना चाहेंगे-और क्यों उन्होंने उसका प्रस्ताव नामंजूर कर दिया.

Continue Readingवह सुंदर महिला मुझे अच्छी लगी फिर भी मैंने सेक्स से इंकार किया! क्यों? 26 जनवरी 2014

अपनी स्वाधीनता और ज़िम्मेदारी: परिवार का समर्थन और प्रोत्साहन- 1 दिसंबर 2013

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि कैसे उनके परिवार ने उनकी किशोरावस्था से ही उन्हें अपने निर्णय स्वयं लेने की शिक्षा दी।

Continue Readingअपनी स्वाधीनता और ज़िम्मेदारी: परिवार का समर्थन और प्रोत्साहन- 1 दिसंबर 2013

नास्तिक होने का अर्थ…- 27 जून 2013

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि एक आस्तिक के आम आचरण के विपरीत नास्तिक अपने जीवन में क्या नहीं करता। उनके जीवनानुभाव की कुछ दिलचस्प बातें यहाँ पढ़िए।

Continue Readingनास्तिक होने का अर्थ…- 27 जून 2013