Tag: भय

भारतीय क्यों सोचते हैं कि बच्चों को अपने अभिभावकों से डरना चाहिए? 8 दिसंबर 2015
भारतीय क्यों सोचते हैं कि बच्चों को अपने अभिभावकों से डरना चाहिए? 8 दिसंबर 2015
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि कैसे स्कूली किताबें डरा-धमकाकर बच्चों का लालन-पालन करने की ... Read More
संबंधों में आने वाली कठिनाइयों के समय मानसिक संतुलन न खोना - 27 अक्टूबर 2015
संबंधों में आने वाली कठिनाइयों के समय मानसिक संतुलन न खोना – 27 अक्टूबर 2015
स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि आपसी संबंधों के बीच पैदा होने वाली समस्याओं, जैसे ... Read More
समस्याओं के प्रति आपका रवैया-आप उनसे घबराते हैं या उनका डटकर मुकाबला करते हैं? 26 अक्टूबर 2015
समस्याओं के प्रति आपका रवैया-आप उनसे घबराते हैं या उनका डटकर मुकाबला करते हैं? 26 अक्टूबर 2015
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि समस्याओं का सामना होने पर कैसे आपकी सांस्कृतिक पृष्ठभूमि ... Read More
खुद अपने आप पर भरोसा करें: आप परिवर्तन ला सकते हैं और उनसे लाभ भी उठा सकते हैं - 25 मार्च 2015
खुद अपने आप पर भरोसा करें: आप परिवर्तन ला सकते हैं और उनसे लाभ भी उठा सकते हैं – 25 मार्च 2015
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि बदलावों को स्वीकार करने के लिए अधिक विश्वास की ... Read More
अगर आप किसी भी क्षण मरने के लिए तैयार हैं तो फिर डरने की ज़रुरत नहीं! 31 अगस्त 2014
अगर आप किसी भी क्षण मरने के लिए तैयार हैं तो फिर डरने की ज़रुरत नहीं! 31 अगस्त 2014
स्वामी बालेन्दु स्वीडन में एक छोटे हवाई जहाज़ में दिए गए अपने एक साक्षात्कार के ... Read More
भविष्य में होने वाली दुर्घटनाओं के काल्पनिक डर से कैसे निपटें! 17 फरवरी 2014
भविष्य में होने वाली दुर्घटनाओं के काल्पनिक डर से कैसे निपटें! 17 फरवरी 2014
स्वामी बालेंदु कुछ प्रकरणों का ज़िक्र कर रहे हैं, जिनमें लोग भविष्य में होने वाली ... Read More
एक कटु अनुभव अच्छे लोगों से मिलने के मौके मुझसे नहीं छीन सकता - 8 सितंबर 2013
एक कटु अनुभव अच्छे लोगों से मिलने के मौके मुझसे नहीं छीन सकता – 8 सितंबर 2013
स्वामी बालेंदु एक महिला के साथ हुई अपनी बातचीत का विवरण दे रहे हैं जो ... Read More
ईश्वर से डरकर आपको क्या मिलता है? अच्छे नैतिक विचार या दिमागी बीमारियाँ? - 18 जून 2013
ईश्वर से डरकर आपको क्या मिलता है? अच्छे नैतिक विचार या दिमागी बीमारियाँ? – 18 जून 2013
स्वामी बालेंदु पूछ रहे हैं कि ईश्वर के डर से अच्छे नैतिक विचार प्राप्त होते ... Read More
अंधविश्वासियों की किस्में - 5: वैज्ञानिक, डॉक्टर या ऐसे ही अतिउच्चशिक्षित लोग - 15 मार्च 13
अंधविश्वासियों की किस्में – 5: वैज्ञानिक, डॉक्टर या ऐसे ही अतिउच्चशिक्षित लोग – 15 मार्च 13
स्वामी बालेंदु उन अंधविश्वासियों की बात करते हैं जो उच्चशिक्षित हैं, वैज्ञानिक और डॉक्टर है ... Read More
अंधविश्वासियों की किस्में - 4: भारत के लोकप्रिय क्रिकेटर और अन्य खिलाड़ी - 14 मार्च 13
अंधविश्वासियों की किस्में – 4: भारत के लोकप्रिय क्रिकेटर और अन्य खिलाड़ी – 14 मार्च 13
स्वामी बालेंदु अंधविश्वासियों की एक और किस्म का वर्णन करते हैं। ये वो खिलाड़ी हैं ... Read More
अंधविश्वासियों की किस्में - 2: आम मध्यमवर्गीय आदमी - 12 मार्च 13
अंधविश्वासियों की किस्में – 2: आम मध्यमवर्गीय आदमी – 12 मार्च 13
स्वामी बालेंदु अंधविश्वासियों की दूसरी किस्म का वर्णन करते हैं: आम मध्यमवर्गीय व्यक्ति। पढ़िए कि ... Read More
अंधविश्वासियों की किस्में - 1: भोले भाले, अनपढ़ ग्रामीण - 11 मार्च 13
अंधविश्वासियों की किस्में – 1: भोले भाले, अनपढ़ ग्रामीण – 11 मार्च 13
स्वामी बालेंदु अंधविश्वासियों की पांच किस्मों में से पहली किस्म , ग्रामवासियों के बारे में ... Read More
क्या अंधविश्वासी लोग सच में अपनी बक़वास बातों पर विश्वास करते हैं? - 8 मार्च 13
क्या अंधविश्वासी लोग सच में अपनी बक़वास बातों पर विश्वास करते हैं? – 8 मार्च 13
स्वामी बालेंदु इस बात का उत्तर देते हैं कि क्या अंधविश्वासी लोग इस बात में ... Read More
'धार्मिक हूँ, अंधविश्वासी नहीं' - संभव तो नहीं परन्तु यह सोच भी शुभ संकेत है - 11 फरवरी 2013
‘धार्मिक हूँ, अंधविश्वासी नहीं’ – संभव तो नहीं परन्तु यह सोच भी शुभ संकेत है – 11 फरवरी 2013
स्वामी बालेंदु धर्म और अंधविश्वास के बीच सम्बन्धों की चर्चा करते हुए कहते हैं कि ... Read More
जब मैं एक सच्ची प्रेत-कथा का साक्षी बना - 10 फरवरी 2013
जब मैं एक सच्ची प्रेत-कथा का साक्षी बना – 10 फरवरी 2013
स्वामी बालेंदु जर्मनी में उनके एक कार्यक्रम के बाद हुई अनोखी घटनाओं के बारे में ... Read More
'मैं भगवान के अलावा और किसी से नहीं डरता', अर्थात हर चीज से भय - 18 जनवरी 2013
‘मैं भगवान के अलावा और किसी से नहीं डरता’, अर्थात हर चीज से भय – 18 जनवरी 2013
स्वामी बालेन्दु उन लोगों की सच्चाई बयान करते हैं जो यह कहते हैं कि मैं ... Read More