बात करने के लिए कभी-कभी आपको किसी दूरस्थ मित्र की ज़रूरत पड़ती है – 8 सितंबर 2015

स्वामी बालेंदु अपने एक मित्र का ज़िक्र कर रहे हैं, जिसने बात करने के लिए उन्हें फोन किया क्योंकि अपने आसपास के लोगों से वह बात नहीं कर पा रहा था! उसकी समस्या क्या थी, यहाँ पढ़िए।

Continue Readingबात करने के लिए कभी-कभी आपको किसी दूरस्थ मित्र की ज़रूरत पड़ती है – 8 सितंबर 2015

मोनिका का शराबी और हिंसक पिता – क्या इसे नियति समझकर स्वीकार कर लेना चाहिए? 18 दिसंबर 2014

स्वामी बालेंदु मोनिका के शराबी और मार-पीट करने वाले पिता के बारे में बताते हुए उसके घर की हालत का बयान कर रहे हैं।

Continue Readingमोनिका का शराबी और हिंसक पिता – क्या इसे नियति समझकर स्वीकार कर लेना चाहिए? 18 दिसंबर 2014

किस सीमा के बाद सेक्स को लत (व्यसन) कहा जा सकता है? 24जून 2014

स्वामी बालेन्दु एक व्याख्यान के दौरान पूछे गए एक प्रश्न का ज़िक्र कर रहे हैं: आपके विचार में सेक्स का कितना अतिरेक लत (व्यसन) बन जाता है?

Continue Readingकिस सीमा के बाद सेक्स को लत (व्यसन) कहा जा सकता है? 24जून 2014

शराब ग़रीबों को और गरीब बनाती है – हमारे स्कूल के बच्चे – 6 जून 2014

स्वामी बालेन्दु अपने स्कूल की एक और लड़की से पाठकों का परिचय करवा रहे हैं। अंजली का पिता शराब पीता है इसलिए काम पर नहीं जा पाता और ऊपर से उसके लीवर के इलाज पर बहुत सा पैसा खर्च करना पड़ता है! क्यों, कैसे? यहाँ पढ़िए।

Continue Readingशराब ग़रीबों को और गरीब बनाती है – हमारे स्कूल के बच्चे – 6 जून 2014

जुआ और शराब के कारण घर-खर्च के लिए कुछ भी नहीं बच पाता – हमारे स्कूल के बच्चे- 7 मार्च 2014

स्वामी बालेन्दु शैली नाम की एक लड़की से अपने ब्लॉग के पाठकों का परिचय करवा रहे हैं. वह एक गरीब परिवार की लड़की है और उनके स्कूल में मुफ्त शिक्षा प्राप्त कर रही है.

Continue Readingजुआ और शराब के कारण घर-खर्च के लिए कुछ भी नहीं बच पाता – हमारे स्कूल के बच्चे- 7 मार्च 2014

बाल विवाह, बाल मजदूरी और शराबखोरी की समस्या – हमारे स्कूल के बच्चे – 24 जनवरी 2014

स्वामी बालेंदु एक लड़के का परिचय आपसे करवा रहे हैं, जिसका पिता शराब पीता है, जिसकी बहन 15 साल की उम्र में ब्याह दी गई और जिसका 14 साल का भाई परिवार का खर्च पूरा करने के लिए मजदूरी करता है।

Continue Readingबाल विवाह, बाल मजदूरी और शराबखोरी की समस्या – हमारे स्कूल के बच्चे – 24 जनवरी 2014

स्वामी बालेन्दु का उपयोग करने के लिए यूजर गाइड, दूसरा अध्याय- 27 अक्तूबर 2013

लोगों की अपेक्षा हो सकती थी मगर मांसाहार, शराब और धूम्रपान के प्रति स्वामी बालेंदु का रवैया वैसा नहीं है। स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि ऐसा कैसे संभव हुआ।

Continue Readingस्वामी बालेन्दु का उपयोग करने के लिए यूजर गाइड, दूसरा अध्याय- 27 अक्तूबर 2013

आयरिश लोग और शराब – अपने पूर्वाग्रह की पुष्टि होते हुए देखना – 19 मई 2013

स्वामी बालेंदु आयरलैंड में बिताए अपने समय के बारे में बता रहे हैं कि वहाँ किस तरह लोग शराब से जुड़ी अपनी समस्याओं को उनके सामने रखते थे। उन्हें क्या बताया जाता था यहाँ पढ़िये।

Continue Readingआयरिश लोग और शराब – अपने पूर्वाग्रह की पुष्टि होते हुए देखना – 19 मई 2013

भारत में जुआ, शराब और सेक्स जैसी समस्याओं के लिए पश्चिमी संस्कृति जिम्मेदार नहीं – 16 जनवरी 13

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि भारत में लोगों को शराब पीने, जुआ खेलने और यहां तक कि यौन अपराधों से होने वाली दिक्कतों के लिए पश्चिम पर आरोप लगाना क्यों न्यायसंगत नहीं है।

Continue Readingभारत में जुआ, शराब और सेक्स जैसी समस्याओं के लिए पश्चिमी संस्कृति जिम्मेदार नहीं – 16 जनवरी 13

सितारों के चमक के पीछे छिपा अंधेरा – सितारों के चमचमाते जीवन की वास्तविक सच्चाई – 14 मार्च 12

स्वामी जी ने उन लोगों के बारे में लिखा है जो अपने जीवन की तुलना सितारों के जीवन से करते हैं। वह कई सितारों के वास्तविक जीवन का वर्णन करते हुए पूछते हैं कि क्या वाकई में उनसे ईर्ष्या करने लायक है।

Continue Readingसितारों के चमक के पीछे छिपा अंधेरा – सितारों के चमचमाते जीवन की वास्तविक सच्चाई – 14 मार्च 12