हाँ, मैं मांसाहार को लेकर असहिष्णु हूँ- और इस विषय में मुझे कोई अपराधबोध भी नहीं है – 10 दिसम्बर 2014

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि मांस खाने वाले मित्रों के साथ भोजन करते हुए लहसुन और प्याज भी न खाने वाले एक शाकाहारी के रूप में वे किस तरह पेश आते हैं।

Continue Readingहाँ, मैं मांसाहार को लेकर असहिष्णु हूँ- और इस विषय में मुझे कोई अपराधबोध भी नहीं है – 10 दिसम्बर 2014

शाकाहारी होने के कारण मांसाहारी मित्रों के साथ भोजन करते हुए संकोच महसूस न करें – 9 दिसंबर 2014

स्वामी बालेंदु रेस्तराँ में कभी-कभी उपस्थित होने वाली असुविधाजनक स्थिति का वर्णन कर रहे हैं, जब पता चलता है कि मेनू में उनके खाने लायक कुछ भी नहीं है।

Continue Readingशाकाहारी होने के कारण मांसाहारी मित्रों के साथ भोजन करते हुए संकोच महसूस न करें – 9 दिसंबर 2014

भोजन में मांस के स्थानापन्न को शामिल करने की कोशिश करना शाकाहार की ओर बढ़ाया गया गलत कदम है – 8 दिसंबर 2014

कुछ लोग शाकाहार की ओर रुख करते हुए मांसाहार का 'स्थानापन्न' ढूँढ़ने की कोशिश करते हैं। स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि क्यों वे टोफू बेकन (tofu-bacon) और सीटन सॉसेज (seitan sausage) के प्रयोग को गलत मानते हैं।

Continue Readingभोजन में मांस के स्थानापन्न को शामिल करने की कोशिश करना शाकाहार की ओर बढ़ाया गया गलत कदम है – 8 दिसंबर 2014