अहिंसक शिक्षा: बच्चों को आपका समय, तवज्जो और संवाद की जरुरत हैं! 3 मार्च 2014

स्वामी बालेंदु अपने ब्लॉग की एक नई शृंखला शुरू कर रहे हैं, जिनमें बच्चों को बिना हिंसा के शिक्षित करने हेतु कुछ सुझाव होंगे। आज फोकस होगा इस सलाह पर: अपने बच्चों के साथ खड़े हों, उनका मार्गदर्शन करें, उनके साथ खेलें, पढ़ें और बात करें।

Continue Readingअहिंसक शिक्षा: बच्चों को आपका समय, तवज्जो और संवाद की जरुरत हैं! 3 मार्च 2014