2016 में रंगों के त्यौहार, होली की मस्ती में हमारे साथ शामिल हों – 22 अक्टूबर 2015

स्वामी बालेंदु अपने पाठकों को 2016 की होली पर आयोजित मौज-मस्ती के विश्रांति-सत्र के ज़रिए रंगों के उत्सव का आनंद लेने हेतु आश्रम में आमंत्रित कर रहे हैं!

Continue Reading2016 में रंगों के त्यौहार, होली की मस्ती में हमारे साथ शामिल हों – 22 अक्टूबर 2015

कृपया इसे अवश्य पढ़ें यदि आप रोजमर्रा की जिन्दगी से बचने के लिए छुट्टियाँ मनाने जाते हैं! 2 फरवरी 2015

जब आपका सारा साल अवकाश के उन चार सप्ताहों पर केन्द्रित होता है तो फिर आप उनके साथ क्या गलत कर रहे होते हैं? स्वामी बालेंदु से जानिए!

Continue Readingकृपया इसे अवश्य पढ़ें यदि आप रोजमर्रा की जिन्दगी से बचने के लिए छुट्टियाँ मनाने जाते हैं! 2 फरवरी 2015

अपनी छुट्टियों में मैं होटल में रहना क्यों पसंद करता हूँ – 1 फरवरी 2015

स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि छुट्टियों में जब वे किसी दूसरे शहर जाते हैं तब निजी घरों की जगह वे होटल क्यों पसंद करते हैं।

Continue Readingअपनी छुट्टियों में मैं होटल में रहना क्यों पसंद करता हूँ – 1 फरवरी 2015

सुन्दर द्वीप, ग्रान कनारिया को बिदाई – 30 जून 2014

ग्रान कनारिया से बिदा लेते हुए स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि जिन लोगों को जानने का उन्हें मौका मिला वे कई बातें अलग ढंग से करते हैं-जैसे छुट्टियाँ मनाने उनका तरीका! कैसे? जानिए, उन्हीं के शब्दों में।

Continue Readingसुन्दर द्वीप, ग्रान कनारिया को बिदाई – 30 जून 2014

सप्ताहांत में वनविहार – 20 अप्रैल 2014

स्वामी बालेंदु अपने दोस्तों के साथ एक वन में बिताए गए सप्ताहांत के बारे में बता रहे हैं। इस अनोखे वनविहार के बारे में यहाँ पढिए।

Continue Readingसप्ताहांत में वनविहार – 20 अप्रैल 2014

वृन्दावन से लखनऊ यात्रा का हमारा अपूर्व अनुभव – 23 दिसंबर 2013

स्वामी बालेंदु अपनी लखनऊ यात्रा के बारे में बता रहे हैं, जिसमें रमोना और अपरा और दोस्तों के साथ उन्होंने लंबे सप्ताहांत की छुट्टियां व्यतीत कीं।

Continue Readingवृन्दावन से लखनऊ यात्रा का हमारा अपूर्व अनुभव – 23 दिसंबर 2013

हिमालय यात्रा की शुरुआत – 28 मार्च 2013

स्वामी बालेन्दु आश्रम के द्वारा आयोजित हिमालय यात्रा के विषय में लिखते हैं|

Continue Readingहिमालय यात्रा की शुरुआत – 28 मार्च 2013