Tag: परंपरा

संथारा की मूर्खतापूर्ण परंपरा की वजह से आत्महत्या को न्यायसंगत नहीं ठहराया जा सकता! 26 अगस्त 2015
संथारा की मूर्खतापूर्ण परंपरा की वजह से आत्महत्या को न्यायसंगत नहीं ठहराया जा सकता! 26 अगस्त 2015
स्वामी बालेंदु एक टी वी परिचर्चा का ज़िक्र कर रहे हैं, जिसमें वे भी शामिल ... Read More
भारत में परंपरागत आयोजित विवाह - सस्ती नौकरानी ढूँढ़ने का एक तरीका? 3 फरवरी 2015
भारत में परंपरागत आयोजित विवाह – सस्ती नौकरानी ढूँढ़ने का एक तरीका? 3 फरवरी 2015
स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि कभी-कभी कैसे भारत के पारंपरिक आयोजित विवाह घर में ... Read More
जब मैं पारंपरिक विवाह समारोह में शिरकत करता हूँ तो क्या मैं दहेज प्रथा का समर्थन करता हूँ? 25 दिसंबर 2014
जब मैं पारंपरिक विवाह समारोह में शिरकत करता हूँ तो क्या मैं दहेज प्रथा का समर्थन करता हूँ? 25 दिसंबर 2014
स्वामी बालेंदु एक दहेज प्रथा विरोधी भारतीय के इस सवाल का जवाब दे रहे हैं ... Read More
जब परिवार वाले अस्पृश्यता पर अमल करें तब उनके प्रति आप सहिष्णु नहीं रह सकते - 24 दिसंबर 2014
जब परिवार वाले अस्पृश्यता पर अमल करें तब उनके प्रति आप सहिष्णु नहीं रह सकते – 24 दिसंबर 2014
स्वामी बालेंदु उन परिस्थितियों का वर्णन कर रहे हैं, जहाँ आप सहिष्णु बने नहीं रह ... Read More
नए ज़माने के भारतीय युवाओं: क्या आप अपने परिवार के तथाकथित पिछड़ेपन पर शर्मिंदा हैं? 23 दिसंबर 2014
नए ज़माने के भारतीय युवाओं: क्या आप अपने परिवार के तथाकथित पिछड़ेपन पर शर्मिंदा हैं? 23 दिसंबर 2014
स्वामी बालेन्दु बहुत से युवा, प्रगतिशील और आधुनिक भारतीय पुरुषों और महिलाओं की इस समस्या ... Read More
पुरानी परम्पराओं और धार्मिक रूढ़ियों की जकड़न से अपने मस्तिष्क को आज़ाद कीजिए! 9 अक्टूबर 2014
पुरानी परम्पराओं और धार्मिक रूढ़ियों की जकड़न से अपने मस्तिष्क को आज़ाद कीजिए! 9 अक्टूबर 2014
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि क्यों धार्मिक विश्वासों, परंपरागत व्यवहारों और सांस्कृतिक मूल्यों को ... Read More
लड़के की आस में पांच लडकियां पैदा हो गईं - हमारे स्कूल के बच्चे- 8 नवंबर 2013
लड़के की आस में पांच लडकियां पैदा हो गईं – हमारे स्कूल के बच्चे- 8 नवंबर 2013
स्वामी बालेन्दु अपने स्कूल की चार लड़कियों से अपने पाठकों का परिचय करा रहे हैं। ... Read More
धार्मिक परम्पराएँ शिष्यों को गुरुओं के अपराधों पर पर्दा डालने पर मजबूर करती हैं-12 सितंबर 2013
धार्मिक परम्पराएँ शिष्यों को गुरुओं के अपराधों पर पर्दा डालने पर मजबूर करती हैं-12 सितंबर 2013
स्वामी बालेंदु समझा रहे हैं की कैसे धर्म शिष्यों को आदेश देता है कि न ... Read More
आश्रम में जरूरतमंदों की सहायता करने की परंपरा है - 30 जून 2013
आश्रम में जरूरतमंदों की सहायता करने की परंपरा है – 30 जून 2013
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि आश्रमों की प्राचीन परम्पराओं का पालन करते हुए उनका ... Read More
कई प्राचीन परंपराएँ आपके सम्मान की हकदार नहीं हैं! - 13 मई 2013
कई प्राचीन परंपराएँ आपके सम्मान की हकदार नहीं हैं! – 13 मई 2013
स्वामी बालेंदु उन लोगों को जवाब दे रहे हैं जो उन पर आरोप लगाते हैं ... Read More
हठधर्मी रूढ़िवादी समाज में स्वाभाविक बदलाव का विरोध करते हैं - 10 मई 2013
हठधर्मी रूढ़िवादी समाज में स्वाभाविक बदलाव का विरोध करते हैं – 10 मई 2013
स्वामी बालेंदु बता रहे हैं कि अपनी संस्कृति की रक्षा करने की मंशा से भारतीय ... Read More
भारतीय अपनी औरतों से इतनी अपेक्षा क्यों रखते हैं? - 23 अप्रैल 2013
भारतीय अपनी औरतों से इतनी अपेक्षा क्यों रखते हैं? – 23 अप्रैल 2013
स्वामी बालेन्दु अपनी पत्नी रमोना के एक वक्तव्य और उसे भारत में रहने के दौरान ... Read More
शराब के बिना जश्न मनाकर देखिए - 2 जुलाई 09
शराब के बिना जश्न मनाकर देखिए – 2 जुलाई 09
स्वामी जी शराब के बारे में लिख रहे हैं कि कैसे ये कई लोगों के ... Read More
बदलाव चाहते हैं तो पहले स्वयं को बदलिए - 7 नवम्बर 08
बदलाव चाहते हैं तो पहले स्वयं को बदलिए – 7 नवम्बर 08
Swami Ji writes about acceptance in relationships. Do not expect your partner to change if ... Read More
साधु - एक अनासक्त जीवन - 18 फरवरी 2008
साधु – एक अनासक्त जीवन – 18 फरवरी 2008
स्वामी बालेन्दु भौतिक संसार से पूरी तरह अनासक्त साधुओं के बारे में और विस्तार से ... Read More
पश्चिम में भारतीय परंपराएँ - 13 फरवरी 2008
पश्चिम में भारतीय परंपराएँ – 13 फरवरी 2008
स्वामी बालेंदु स्पष्ट कर रहे हैं कि कैसे भारतीय गुरुओं द्वारा भारतीय परंपराएँ पश्चिम लाई ... Read More