Category: कार्य

दिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015
दिन भर के कामकाज और मेहनत के बाद क्या आप सेक्स के लिए बेहद थक जाते हैं? 10 अगस्त 2015
स्वामी बालेन्दु से किसी व्यक्ति ने अपनी इस समस्या पर उनके विचार पूछे: दिन भर ... Read More
मैं घर से किया जाने वाला अपना काम (व्यवसाय) क्यों पसंद करता हूँ - 22 जनवरी 2015
मैं घर से किया जाने वाला अपना काम (व्यवसाय) क्यों पसंद करता हूँ – 22 जनवरी 2015
स्वामी बालेन्दु अपने काम के बारे में बता रहे हैं और यह भी कि वे ... Read More
अपने जीवन का समय बरबाद न हो इसलिए अपने काम से प्रेम करें - 21 जनवरी 2015
अपने जीवन का समय बरबाद न हो इसलिए अपने काम से प्रेम करें – 21 जनवरी 2015
स्वामी बालेंदु लोगों से आग्रह कर रहे हैं कि वे अपने समय का समुचित उपयोग ... Read More
चिकित्सा क्षेत्र के पेशेवर लोगों के लिए - आवश्यक जुड़ाव और दूरी - 20 जनवरी 2015
चिकित्सा क्षेत्र के पेशेवर लोगों के लिए – आवश्यक जुड़ाव और दूरी – 20 जनवरी 2015
स्वामी बालेंदु चिकित्सा क्षेत्र में काम करने वाले पेशेवर लोगों का शुक्रिया अदा करते हुए ... Read More
प्रबंधन के क्षेत्र में ज़्यादा से ज़्यादा महिलाएँ होनी चाहिए! 8 मई 2014
प्रबंधन के क्षेत्र में ज़्यादा से ज़्यादा महिलाएँ होनी चाहिए! 8 मई 2014
स्वामी बालेन्दु यह समझा रहे हैं कि यदि महिला प्रबंधकों की संख्या अधिक हो तो ... Read More
क्या सिर्फ डांट फटकार आपकी कार्य-क्षमता में इज़ाफा कर सकता है? 7 मई 2014
क्या सिर्फ डांट फटकार आपकी कार्य-क्षमता में इज़ाफा कर सकता है? 7 मई 2014
स्वामी बालेन्दु समझा रहे हैं कि प्रबंधन में लगे हुए बहुत से लोग अपनी गलत ... Read More
उपलब्धियां और सफलताएँ जब खुशियों से ज़्यादा महत्वपूर्ण हो जाते हैं! 20 अगस्त 2013
उपलब्धियां और सफलताएँ जब खुशियों से ज़्यादा महत्वपूर्ण हो जाते हैं! 20 अगस्त 2013
स्वामी बालेंदु लिख रहे हैं कि कामकाजी जीवन में मौजूद प्रतिस्पर्धा और पुरस्कार आपके अहं ... Read More