वात चाय: जोड़ों के दर्द और वायु की शिकायत पर मुफीद: अदरक, मेथी से तैयार चाय – 10 अक्टूबर 2015

पाक कला

यशेंदु के आयुर्वेदिक खान-पान संबंधी शिविर में एक सहभागी ने विभिन्न दोषों के लिए आयुर्वेदिक चाय बनाने की तरकीब पूछी। जब कि पश्चिम में ऐसी बनी-बनाई तैयार चाय टी बैग्ज़ में उपलब्ध हो जाती हैं, वास्तव में उन्हें तैयार करना बहुत आसान होता है और खुद बनाने पर वह ताज़ी और अधिक गुणकारी भी सिद्ध होती है! मैं आपको वात, कफ और पित्त, इन तीनों दोषों के निवारण के लिए उपयोगी चाय बनाने की विधि बताऊंगा। आज शुरू करते हैं, वात चाय से, जो वात संबंधी समस्याओं, जैसे पेट फूलना, गठिया संबंधी जोड़ों का दर्द आदि में लाभकारी सिद्ध होती है।

वात चाय-जोड़ों के दर्द और गैस की शिकायत में उपयोगी अदरक और मेथी से तैयार चाय

अगर आपको गैस की शिकायत है या आपके जोड़ों में दर्द है तो अदरक और मेथी से तैयार इस स्वादिष्ट चाय का सेवन करें, लाभ होगा!

वात चाय तैयार करने में कितना समय लगता है?

तैयारी करने में:
पकाने में:
कुल समय:

सामग्री


2 कप: पानी
एक छोटा सा टुकड़ा: अदरक
1/2 चम्मच मेथी के दाने

वात चाय कैसे तैयार करें?

सबसे पहले अदरक को अच्छी तरह धोएँ और उसे सावधानीपूर्वक छील लें। अदरक के बारीक चपटे टुकड़े करें।

एक बरतन में पानी लेकर उसमें अदरक मिला दें और फिर बरतन को स्टोव पर रखकर अदरक मिश्रित पानी को उबालें। जब पानी उबलने लगे तब उसमें मेथी के बीज भी मिला दें और इस मिश्रण को लगभग 2 मिनट तक और उबलने दें।

दो मिनट बाद स्टोव बंद कर दें क्योंकि आपकी चाय तैयार है!

अगर आप चाहें तो चाय छानने के बाद उसमें नींबू का रस भी मिलाएँ-स्वाद और बढ़िया हो जाएगा!

जोड़ों के दर्द से या पेट की तकलीफ से पीड़ित मित्रों के साथ इस चाय का आनंद लें!

Leave a Comment