इमली या अमचूर की सौंठ – इमली या अमचूर की खट्टी मीठी चटनी बनाने की विधि – 1 फरवरी 2014

पाक कला

मैं आज आपको कोई डिश बनाने की विधि नहीं बल्कि एक खट्टा-मीठा सॉस बनाने की विधि बताने जा रहा हूँ, जिसे अक्सर समोसे, आलू-भल्ले आदि के साथ परोसा जाता है और जिसे इमली या अमचूर की सौंठ कहते हैं। इमली खट्टे स्वाद के लिए जानी जाती है और दुनिया भर की एशियाई दुकानों में सूखी इमली या इमली का पेस्ट आसानी के साथ मिल जाता है, मैं स्वयं इसे वहाँ खरीद चुका हूँ। अगर आपको घर के आसपास इमली न मिल सके तो उसकी जगह अमचूर का इस्तेमाल करके भी यह खट्टी-मीठी चटनी बना सकते हैं। इतना ही कि तब यह व्यंजन अमचूर की सौंठ कहलाएगा।

इमली या अमचूर की सौंठ-इमली या अमचूर की खट्टी-मीठी चटनी

इमली या अमचूर से बनी इस खट्टी-मीठी चटनी की सहायता से अपने नाश्ते को पूर्णता प्रदान करें!

पालक गाजर शिमला मिर्च तैयार करने में कितना समय लगेगा?

तैयारी करने में:
पकाने में:
कुल समय:

सामग्री

150 ग्राम इमली (का फल)
या 150 ग्राम अमचूर पाउडर
400 ग्राम पानी
1 छोटा चम्मच ज़ैतून का तेल अथवा जिस भी तेल में आप भोजन बनाते हैं|
1/2 छोटी चम्मच ज़ीरा
25 ग्राम किशमिश
8 काजू
2 छुहारे
150 ग्राम शक्कर
1 बड़ा चम्मच अदरक पाउडर (सोंठ)
1 छोटा चम्मच दालचीनी
1/2 छोटी चम्मच जावित्री
स्वाद के अनुसार काला एवं सफ़ेद नमक

इमली या अमचूर की सौंठ कैसे बनाएँ?

छुहारे के बीज निकालकर उन्हें पतले, लंबे आकार में काट लें। काजुओं को बीच से दो भागों में अलग करके उनके दो टुकड़े और कर लें, अर्थात एक काजू के दो या चार टुकड़े।

अगर आप चटनी बनाने के लिए इमली का उपयोग कर रहे हैं तो पहले इमली को पानी में लगभग 15 से 20 मिनट तक भिगोकर रखना पड़ेगा। इसके बाद आप उसके बीज आसानी के साथ अलग कर पाएंगे। इमली के बीज निकालकर इमली के गूदे को पानी में अच्छी तरह मैश कर लें। इसे इतना मैश करना होगा कि गूदा पानी के साथ एकसार होकर पेस्ट बन जाए। अब इस पेस्ट को एक छलनी पर रगड़-रगड़कर छान लें, जिससे उसका छूंछ अलग हो जाए।

अगर आप सीधे इमली का पेस्ट बाज़ार से खरीद लें तो आपके लिए और आसानी होगी-तब आपको सिर्फ उसे पानी में अच्छी तरह मिलाकर एकसार कर लेना है।

अगर आप अमचूर इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसके साथ भी यही करना है: एक बर्तन में अमचूर का पाउडर लेकर उसमें पानी मिलाएँ और अच्छी तरह फेंटकर उसे एकसार कर लें, इतना कि थोड़ा सा भी सूखा पाउडर न रह जाए।

अब एक बर्तन में तेल गर्म करें और जब वह पर्याप्त गर्म हो जाए, उसमें जीरा डालकर हल्का चलाएं और जब जीरे का रंग बदलकर हल्का भूरा हो जाए, उसमें इमली या अमचूर का पानी मिला दें। फिर इस मिश्रण में दूसरे सारे मसाले मिलाकर चलाएं। काला नमक, स्वाद के अनुसार सादा नमक, काजू और छुहारे के टुकड़े और किशमिश मिलाकर अच्छी तरह चलाएं। फिर आखिर में, मिश्रण को चलाते हुए शक्कर भी मिला दें। इस मिश्रण को लगातार चलाते रहें, जिससे सारे अवयव एकसार हो जाएँ।

अब मिश्रण को उबालें और फिर हल्की आंच में लगभग 10 मिनट तक उबलने दें। क्रमशः चटनी गाढ़ी होती चली जाएगी और यह आप पर निर्भर है कि आप कितनी गाढ़ी चटनी पसंद करते हैं। दस मिनट में यह काम सम्पन्न हो जाएगा। अक्सर इस चटनी को दही के साथ सम्मिलित रूप से इस्तेमाल किया जाता है: जैसे दही-भल्लों, समोसों या कचोरियों पर इन दोनों को एक साथ परोसा जाता है!

इस बेहतरीन खट्टी-मीठी चटनी का मज़ा लें!

%d bloggers like this:
Skip to toolbar