गाजर बैंगन – गाजर और बैंगन मिलाकर बनाई जाने वाली सब्जी – 13 दिसंबर 2014

शहर:
वृन्दावन
देश:
भारत

आज जिस व्यंजन को तैयार करने की विधि मैं बताने जा रहा हूँ उसमें भी गाजर पड़ता है। मैं आपको बता चुका हूँ कि ठंड के मौसम में यह हमारी पसंदीदा सब्जी होती है। इस बार हम उसे बैंगन के साथ मिलाकर तैयार कर रहे हैं और चखने के बाद आप मानेंगे कि इसका स्वाद वाकई लाजवाब है। आप ऊपर दिए गए चित्र में देख सकते हैं कि हमने इसके लिए हरे, लंबे बैंगनों को चुना है लेकिन आप सफ़ेद या सामान्य रूप से मिलने वाले बैंगनी रंग के बैंगनों का भी उपयोग कर सकते हैं!

गाजर बैंगन की सब्जी

आप उसे बैंगन कहें, भटा कहें या अंग्रेज़ी में, ब्रिंजल कहें-जब आप उसे गाजर के साथ मिलाकर पकाते हैं तो आप उसके बेहतरीन स्वाद से चकित रह जाते हैं!

गाजर बैंगन की सब्जी तैयार करने में कितना वक़्त लगता है?

तैयारी करने में:
पकाने में:
कुल समय:

सामग्री

1 किलोग्राम गाजर
1 किलोग्राम बैंगन
1 बड़ा चम्मच वनस्पति तेल
1 छोटी चम्मच ज़ीरा
1/2 छोटी चम्मच गरम मसाला
1 छोटी चम्मच धनिया पाउडर
1 छोटी चम्मच सोंठ पाउडर
1 छोटी चम्मच अमचूर
1/2 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर
1 चुटकी हींग
सजावट के लिए ताज़ी हरी धनिया पत्तियाँ और स्वाद के अनुसार नमक

गाजर बैंगन की सब्जी कैसे तैयार करें?

सब्जियों को अच्छी तरह धो लें। यह आप खुद तय करें कि गाजर को घिसकर या छीलकर उनका छिलका उतारना चाहते हैं या छिलके सहित पकाना चाहते हैं। जो भी हो, उन्हें मध्यम आकार में काट लें। इसी तरह बैंगन भी मध्यम आकार में काट लें।

एक गहरी कड़ाही में तेल गरम करें और जब वह अच्छा गरम हो जाए तब उसमें जीरा, गरम मसाला, धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, अदरक पाउडर और चुटकी भर हींग डालकर हल्के हाथ से चलाएँ। मसाले जलें नहीं इसलिए उन्हें कुछ देर चलाते रहें और जब वे अच्छी तरह भुन जाएँ, उनका रंग कुछ भूरा, सुनहरा सा हो जाए और मसालों की महक रसोई में फैलने लगे तब इन मसालों में गाजर भी मिला दें। गाजर में सारे मसाले अच्छी तरह मिल जाएँ इसलिए सारे मिश्रण को कुछ देर चलाएँ और कड़ाही पर ढक्कन रख कर मध्यम आँच में गाजर को पकने दें।

पाँच मिनट बाद ढक्कन खोलकर मिश्रण में बैंगन के टुकड़े भी मिला दें और सारे मिश्रण को अच्छी तरह चलाएँ। थोड़ा सा नमक मिलाकर फिर से मिश्रण को चलाएँ और फिर कड़ाही पर ढक्कन रखकर स्टोव की आँच धीमी कर दें। बीच-बीच में सब्जियों को चलाते रहें, जिससे सब्जियाँ कड़ाही के तले में चिपककर जलें नहीं।

दस मिनट में कड़ाही का ढक्कन खोला जा सकता है। सब्जियों को खुली कड़ाही में कुछ देर पकने दें। बीच-बीच में सब्जियों को चलाते रहें।

पाँच मिनट बाद सारी सब्जियाँ अच्छी तरह पक जाएँगी और खाने योग्य नरम हो जाएँगी! अब आप सब्जी को भोजन के साथ परोस सकते हैं। परोसने से पहले सजावट के लिए उन पर धुली हुई साफ धनिया-पत्तियाँ भुरकाना न भूलें।

अब बस, भोजन का आनंद लें!