चावल की टिक्की – चावल की टिक्की बनाने की विधि – 26 अप्रैल 2014

पाक कला

आज मैं आपको एक ऐसी डिश बनाने की विधि बताने जा रहा हूँ, जो एक तरह का नाश्ता है, कुछ खास, मगर जो तलकर बनाए जाने के बावजूद स्वास्थ्य की दृष्टि से दूसरे, आम नाश्तों से बेहतर है: चावल की टिक्की।

चावल की टिक्की

सादे सफ़ेद चावल का विकल्प चाहते हैं? इस फ्राइड राइस टिक्की (चावल की टिक्की) को आज़मा कर देखें-देखने में सुंदर और खाने में स्वादिष्ट!

चावल की टिक्की बनाने में कितना वक़्त लगता है?

कुल समय:
इसके अतिरिक्त बनाना शुरू करने से पहले चावल को 20 मिनट तक भिगोकर रखना पड़ता है।

सामग्री


200 ग्राम चावल
600 ग्रामपानी
1 गुच्छा धनिया पत्ती
1 छोटी चम्मच अमचूर
तलने के लिए तेल
स्वाद के अनुसार नमक

चावल की टिक्की कैसे तैयार करें?

एक बड़े बरतन में धुले चावल और पानी मिलाकर बीस मिनट तक भीगने के लिए अलग रख दें। इतना समय हो जाने के बाद बरतन पर ढक्कन रखकर उसे स्टोव पर रख दें और मध्यम आंच पर उबालें और जब उसमें उबाल आ जाए तो आंच को बिल्कुल धीमा कर दें। मिश्रण को चलाएं नहीं बल्कि बरतन पर ढक्कन रखकर चावल को धीमी आंच में पकने दें।

इस बीच आप धनिया पत्ती को धोकर पत्तियों और नर्म डंठलों को चुन लें और मोटी डंठलों को निकालकर फेंक दें। इन पत्तियों को बारीक काटकर अलग रख लें।

लगभग 15 मिनट बाद चावल पककर तैयार हो जाएगा। इसे आप आसानी से जांच सकते हैं: अगर पानी उबलने की आवाज़ नहीं आ रही है और चावल की नोक ऊपर की तरफ दिखाई दे रही है तो समझिए चावल पक गए हैं। अब बरतन को स्टोव पर से उतार लीजिए और उसे ठंडा होने दीजिए। चावल को आप बाहर निकालकर भी रख सकते हैं, जिससे वह जल्दी ठंडा हो जाए।

जब चावल ठंडा हो जाए, उसमें नमक और धनिया पत्ती डालकर हाथ से अच्छी तरह मिला लें। मिलाने के साथ ही आप चावल को थोड़ा सा मैश करना भी शुरू कर सकते हैं। जब सारी चीज़ें अच्छी तरह आपस में मिलकर एकसार हो जाएँ और चावल का कुछ हिस्सा मैश हो जाए तब आप इस मिश्रण के छोटे-छोटे गोले बना लीजिए। इसीलिए थोड़ा सा चावल मैश करने की ज़रूरत होती है, जिससे गोले ठीक से बन सकें।

एक-एक कर, हर गोले को दोनों हथेलियों के बीच लेकर थोड़ा दबाएँ, जिससे वह दबकर छोटे, गोल बिस्किट के बराबर मोटी और चपटी टिक्कियों में तब्दील हो जाए। सारे गोलों की इसी आकार और मोटाई की टिक्कियाँ बना लें।

यह काम हो जाने के बाद हाथ धो लें और एक नॉन स्टिक पैन या कड़ाही में तेल गरम करें और कड़ाही में एक-एक करके इन टिक्कियों को डालते जाएँ। कड़ाही में जितनी टिक्कियाँ एक साथ आ जाएँ आप डाल सकते हैं मगर ध्यान रहे कि वे एक-दूसरे से अलग रहें, आपस में छुए नहीं कि चिपकने लगें। मध्यम आंच में इन टिक्कियों का निचला सिंक जाने दें और जब वे सिंक कर थोड़ी कड़ी हो जाएँ, उन्हें एक-एक करके सावधानी के साथ हल्के हाथों से पलट दें। अब उन्हें दूसरी तरफ से भी सेंक लें। कड़ाही में तेल कम हो तो थोड़ा और डाल लें, जिससे तलने में आसानी हो। उन्हें तब तक उलटते-पलटते रहें जब तक कि उनका रंग बदलकर सुनहरा न हो जाए।

अब उन्हें बाहर निकालकर गर्मा-गर्म परोसें। साथ में बढ़िया सा सलाद हो, या कोई चटनी या दाल या अचार, तो खाने का मज़ा ही कुछ और होगा!

कई तरह से आप इस नाश्ते का आनंद ले सकते हैं!

%d bloggers like this:
Skip to toolbar