भरवाँ आलू-पनीर – भरकर तैयार की जाने वाली आलू की सब्जी – 18 जुलाई 2015

शहर:
वृन्दावन
देश:
भारत

आज मैं भरवाँ आलू पकाने की विधि लिख रहा हूँ। निश्चित ही आलुओं को कई दूसरी वस्तुएँ भरकर भी तैयार किया जा सकता है लेकिन आज मैं पनीर भरकर इसे तैयार करूँगा- इसका स्वाद बेहद लाजवाब होता है! सिर्फ एक बात का ध्यान रखें, सब्जी पकाने के लिए सुंदर गोल आलुओं का उपयोग करें, उन्हें भरने में भी सुविधा होती है और वे खाने के साथ पेश करने पर सुंदर भी लगते हैं!

भरवाँ आलू-पनीर – भरकर तैयार आलू

अगर आप सामान्य भुने या तले आलू खा-खाकर बोर हो चुके हैं तो उन्हें कुछ भरकर तैयार करें-पकाने में भी मज़ा और खाने में बोरियत नहीं!

भरवाँ आलू पकाने में कितना वक़्त लगता है?

तैयारी करने में:
पकाने में:
कुल समय:

सामग्री


1/2 लीटर दूध
1/2 नग नींबू
500 ग्राम आलू
300 ग्राम टमाटर

1/2 बड़ा चम्मच वनस्पति तेल
1/4 छोटी चम्मचगरम मसाला
1/2 छोटी चम्मच जीरा
1 चुटकी अमचूर
थोड़ी सी ताज़ी हरी धनिया पत्तियाँ
स्वाद के अनुसार नमक

भरवाँ आलू कैसे तैयार करें?

सबसे पहले पनीर तैयार करें- इसे बनाने की विधि पहले बताई जा चुकी है। पनीर में मौजूद पानी बूंद-बूंद निकल रहा है तभी आप आलुओं को साफ करके उन्हें तैयार कर सकते हैं।

आलुओं को साफ धोकर छील लें। उनमें इस तरह छेद करें कि बाद में वही उसके ढक्कन के रूप में काम आ सके। फिर उसे चाकू या चम्मच के पिछले हिस्से से या एपल कोरर से (सेब का बीजवाला हिस्सा खुरचने के औज़ार से) भीतर से खुरचकर पोला कर लें। जब आलू तैयार हो जाएँ तो आप पनीर उठाएँ और एक प्लेट पर रखकर हाथों से उसे अच्छी तरह से मैश कर लें।

अब एक कड़ाही में तेल गरम करें और जब वह अच्छा गरम हो जाए तो उसमें गरम मसाला और अमचूर डालकर हल्का चलाएँ, जिससे दोनों भुनकर थोड़े गहरे रंग के हो जाएँ और फिर उसमें पनीर भी मिला दें। मसालों को पनीर के साथ अच्छी तरह चलाकर एकसार कर लें। पाँच मिनट तक मिश्रण को चलाते हुए भून लें और फिर कड़ाही उतार लें। ताज़ी हरी धनिया पत्तियों को धो लें और पत्तियाँ और छोटी नर्म डंठलें चुन लें और मोटी डंठलों को निकालकर फेंक दें। पत्तियों को बारीक काट लें और पनीर के साथ मिलाएँ। नमक मिलाकर सारे मिश्रण को एक बार और चलाकर अच्छी तरह एकसार कर लें।

अब पनीर और मसालों के इस मिश्रण को आलुओं में भरा जा सकता है। जब सारे आलू भर लिए जाएँ, उन पर उनके ढक्कन रखकर ढक्कन वाले सिरे से दूसरी ओर तक आरपार टूथपिक खोंसकर उन्हें बंद कर दें। सारे आलुओं पर थोड़ा तेल चुपड़ दें और फिर उन्हें एक बड़ी थाली (ट्रे) में जमाकर गरम ओवन में रख दें।

आलुओं को 200 अंश तापमान पर लगभग 15 मिनट तक सिंकने दें। बीच-बीच में जाँच करते रहें और ओवन की शक्ति और कार्यक्षमता के अनुसार कि किस हद तक वह ताप को हर तरफ वितरित करता है, आप आलुओं को उलटते-पलटते रहें। जब हर तरफ से आलू हल्के सुनहरे भुन जाएँ तो समझिए वे तैयार हो गए हैं और उन्हें बाहर निकाला जा सकता है।

आलू जब ओवन में थे, उस समय का उपयोग आप टमाटर की तैयारी में कर सकते हैं। धोकर साफ करने के बाद उन्हें एक ब्लेंडर में रखकर उनकी प्यूरी तैयार कर लें। एक बरतन गरम करके उसमें जीरा लेकर बिना तेल के दो मिनट तक भूनें। उसमें टमाटर की प्यूरी मिला दें और जब वह अच्छी गरम हो जाए, उसमें हल्के हाथों से एक-एक कर आलू डालते चले जाएँ। आपके भरवाँ आलू तैयार हैं- बस, परोसने से पहले सावधानी के साथ सारे टूथपिक निकाल लें! या आप यह काम अपने मेहमानों के लिए भी छोड़ सकते हैं- टूथपिक के साथ भी वे बुरे नहीं लगते!

मेहमानों के साथ बैठकर आप भी खाने के आनंद में शामिल हो जाइए!