आलू धनिया – आलू और धनिया की सब्जी -10 मई 2014

पाक कला

आज मैं आपको ऐसी स्वादिष्ट डिश बनाने की विधि बताने जा रहा हूँ जिसे हम लोग बेहद पसंद करते हैं: आलू-धनिया, आलू और धनिया पत्ती को मिलाकर बनाई जाने वाली सब्जी। जो भी धनिया पत्ती, जिसे पश्चिमी देशों में coriander या cilantro कहा जाता है, का स्वाद पसंद करता है उसे यह संयोग पसंद आएगा, जिसमें आलू के अलावा धनिया पत्तियों का इस्तेमाल मसालों के रूप में या उसकी दो-चार पत्तियाँ रखकर सिर्फ सजावट के लिए नहीं बल्कि व्यंजन के दो मुख्य अवयवों में से एक अवयव के रूप में किया जाता है।

आलू-धनिया- आलू और धनिया पत्ती मिलाकर बनाई जाने वाली सब्जी

इस स्वास्थ्यकर और स्वादिष्ट मिश्रण को आज़माएँ और धनिया पत्ती के पूरे स्वाद का मज़ा लें!

आलू-धनिया तैयार करने में कितना वक़्त लगता है?

तैयारी करने में:
पकाने में:
कुल समय:

सामग्री


500 ग्राम आलू
200 ग्राम ताज़ी धनिया पत्तियाँ
1 बड़े चम्मच खाना पकाने का तेल (वनस्पति तेल)
1 छोटी चम्मच ज़ीरा

1 छोटी चम्मच अदरक (बारीक कटा हुआ)
1 छोटी चम्मच अमचूर

स्वाद के अनुसार नमक

आलू-धनिया कैसे बनाएँ?

सबसे पहले आलुओं को धो लें और एक बरतन में पर्याप्त पानी लेकर उसके साथ उबलने के लिए आग पर चढ़ा दें। जब तक वे पककर मुलायम न हो जाएँ उन्हें उबलने दें।

एक तरफ जब तक आलू उबल रहे हैं आप धनिया पत्तियों को तैयार कर सकते हैं। पत्तियों और कोमल डंठलों को चुनकर उसकी मोटी डंठलों को फेंक दें और चुनी हुई धनिया पत्तियों को अच्छी तरह धोकर बारीक काट लें।

अदरक को धोकर, छीलकर बारीक काट लें। एक चाय का चम्मच अदरक काफी होगा।

बीस मिनट उबलने के बाद आप एक चाकू की सहायता से आलुओं की जांच कर सकते हैं कि वे आपके मन-मुताबिक (पर्याप्त) नर्म हो गए हैं या नहीं। अगर हो गए हों तो उन्हें अलग निकालकर तुरंत ठंडे पानी में थोड़े समय खंगालें और जब वे इतने ठंडे हो जाएँ कि उन्हें छीला जा सके तब उन्हें हाथ से छील लें। अब अपने कौर के आकार के टुकड़े करके उन्हें अलग रख लें।

अब एक नॉन स्टिक कड़ाही में वनस्पति तेल गरम करें और जब वह पर्याप्त गरम हो जाए तो उसमें जीरा और अदरक के टुकड़े डालकर चलाएं। जब रसोई में मसालों की खुशबू फैलाने लगे और भुनकर उनका रंग हल्का सुनहरा या भूरा हो जाए तो उसमें आलू मिला दें। अब थोड़े धैर्य की आवश्यकता होगी। हर दो मिनट बाद आपको उन्हें चलाना होगा, जिससे वे कढ़ाई में चिपके नहीं और नीचे से जलने न लगें। लेकिन पूरे वक़्त चलाते न रहें अन्यथा वे ठीक से भुन नहीं पाएंगे और आपको उनका सुंदर, कुरकुरा, सुनहरा रंग नहीं मिल पाएगा।

लगभग पंद्रह मिनट बाद आपके आलू हर तरफ से भुनकर हल्के सुनहरे हो जाएंगे। अब उनमें कटी हुई धनिया पत्तियाँ मिला दें और स्वाद के अनुसार नमक भुरककर हल्के हाथों से दो मिनट चलाएं, जिससे पत्तियाँ भी थोड़ी गरम हो जाएँ और नमक भी आलुओं में हर तरफ मिल जाए। अब अमचूर भी इस मिश्रण में मिला दें और फिर कुछ देर चलाकर स्टोव बंद कर दें।

हो गया! आपकी आलू-धनिये की डिश बनकर तैयार है।

इस सुस्वादु व्यंजन का भोजन के साथ मज़ा लें!

%d bloggers like this:
Skip to toolbar