Home > Category: मेरे विचार

हाँ, मुझे सेक्स, पैसा, भौतिक पदार्थ और मेरी पत्नी पसंद हैं और मुझे कोई अपराधबोध भी नहीं है! 19 नवंबर 2015

मेरे विचार

स्वामी बालेंदु उन चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिनसे उन्हें प्रेम है, भले ही बहुत से लोग उन चीजों में संलग्न होना बुरा समझते हों। क्यों? और ये चीजें क्या हैं, यहाँ पढ़िए!

वार्तालाप के कौशल में वृद्धि हेतु 5 टिप्स – 19 अगस्त 2015

मेरे विचार

स्वामी बालेन्दु बता रहे हैं कि लोगों से बात करते वक़्त पाँच बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। पढ़िए और देखिए कि क्या आप उन्हें अमल में लाकर अपनी वार्तालाप क्षमता में वृद्धि कर पा रहे हैं या नहीं!

स्वतंत्र और भ्रष्टाचार-मुक्त मीडिया का स्वप्न – ‘इंडिया संवाद’ – 23 मार्च 2015

मेरे विचार

स्वामी बालेन्दु एक समूह में शामिल हुए हैं, जिसका नाम ‘इंडिया संवाद’ है और जिसका ध्येय भ्रष्टाचार-मुक्त मीडिया के लिए काम करना है। यहाँ वे समूह के बारे में विस्तार से बता रहे हैं!

क्या एक नास्तिक कह सकता है कि वह किसी का कृतज्ञ है? 30 सितंबर 2014

मेरे विचार

शुक्रगुजार (कृतज्ञ) होना और भाग्य संबंधी प्रश्न धर्म और ईश्वर से संबन्धित हैं या नहीं? इस विषय में स्वामी बालेंदु के विचार यहाँ पढ़ें।

लेखकों: जब कोई आपकी रचना की नक़ल करे तो सम्मान महसूस करें! 1 सितम्बर 2014

मेरे विचार

स्वामी बालेन्दु लेखकों की कड़ुवी त्रासदी की चर्चा कर रहे हैं: बिना इजाज़त उनकी रचना उड़ा ली जाती है, टुकड़ों-टुकड़ों में उन्हें नेट पर इधर-उधर पोस्ट कर दिया जाता है, दूसरी जगह उन्हें प्रकाशित किया जाता है, और उनका नामोल्लेख तक नहीं किया जाता!

जन्मदिन मुबारक हो रमोना! तुम्हारे बगैर मैं जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकता! 19 मार्च 2014

मेरे विचार

स्वामी बालेन्दु अपनी पत्नी को उसके जन्मदिन पर भावुक स्मृतियों में सराबोर प्रेमपत्र लिख रहे हैं.